7 वित्तीय टिप्स जो हमें 30 साल की उम्र तक पता होना चाहिए

7 वित्तीय टिप्स

जिंदगी भर पैसे की कमी न हो, इसके लिए हमें नौकरी या बिजनेस के शुरुआती समय से ही financial planning करनी चाहिए। पैसा बचाना और सही जगह निवेश करना पैसा कमाने से ज्‍यादा जरूरी होता है, जिससे कि आने वाले समय में हमें उसका return मिलता रहे। 20 से 25 साल की उम्र में नौकरी या बिजनेस करने वाले युवाओं में अकसर यह देखा गया कि वो अपनी financial planning को लेकर बहुत अधिक गंभीर नहीं रहते हैं। बहुत ही कम युवा इस उम्र में retirement planning के बारे में सोचते हैं। दरअसल, यही फाइनेंशियल प्‍लानिंग का सही समय होता है। शुरुआती समय में ही अगर इस ओर ध्‍यान दिया जाए, तो after retirement life काफी आसान हो जाती है। साथ ही आपके पास पैसे की कमी नहीं रहती है।

तो आपने अपने finances को स्थिर करने का निर्णय लिया है, लेकिन आप उलझन में हैं कि कहाँ और कैसे शुरू करें? हम यहां 7 वित्तीय टिप्स के साथ guide करने को तैयार हैं जिन्हें आपको follow करना चाहिए:

Read: What is Financial Freedom in Hindi? वित्तीय आजादी के लिए 9 Tips

Financial Goal Planning: वित्तीय लक्ष्य कैसे तय करें

सही निवेश करें और भविष्य में वित्तीय स्थिरता प्राप्त करें।

1. अपने पैसे को manage करना सीखें

अपने पैसे को manage करना rocket science नहीं है, और आपको विशेषज्ञ होने की आवश्यकता नहीं है। बस ज़रूरत है तो dedication की। अपना वित्तीय लक्ष्य निर्धारित करें और उन्हें प्राप्त करने के तरीके खोजें। जैसे ही आप अपना वेतन प्राप्त करते हैं, कम से कम 10% बचत के रूप में अलग रख दें।

आप बड़ी रकम भी बचा सकते हैं; जितना बड़ा उतना अच्छा। लेकिन आपके बैंक खाते में नहीं, जहां आपको कोई बड़ा रिटर्न नहीं मिलेगा, बल्कि डिजिटल गोल्ड, म्युचुअल फंड, एफडी, चिट फंड आदि में डालें।

अपने पैसे को manage करना पहली बार में मुश्किल लग सकता है, लेकिन जितनी जल्दी आप अपने finances को organize करना शुरू करेंगे, आपका भविष्य उतना ही बेहतर होगा।

Read: Important मनी मैनेजमेंट टिप्स, Money management tips in Hindi

मनी सेविंग टिप्स, 15 Money Saving Tips in Hindi

मनी मैनेजमेंट ऐप्स: फालतू के खर्च पर कंट्रोल करती हैं ये ऐप्स

2. इमरजेंसी फंड (Emergency Fund)

30 से कम उम्र में जब भी आप नौकरी शुरू करें, तो आपकी सबसे पहली प्राथमिकता एक इमरजेंसी फंड बनाने की होनी चाहिए। करीब 6 महीने के बराबर लाइफ स्‍टाइल (रहन-सहन) के खर्चे की रकम इमरजेंसी फंड में होनी चाहिए। इससे मेडिकल इमरजेंसी, जॉब छूटने जैसी situations से निपटने में मदद मिलेगी। याद रखें इस फंड का इस्‍तेमाल तब तक न करें जबतक इमरजेंसी न हो। पर्याप्‍त इमरजेंसी फंड नहीं होने पर आपको अचानक होने वाली फाइनेंशियल जरूरत के लिए लोन लेना पड़ सकता है, जिस पर आपको काफी ब्‍याज भी चुकाना पड़ सकता है।

मनी क्लब ऐप डाउनलोड करें और आज ही बचत करना शुरू करें!

3. बजट का रखें ध्‍यान (Make Budget)

30 साल या इससे कम की उम्र जीवन का ऐसा समय होता है जब हम अमूमन खर्चीले ज्‍यादा होते हैं। 30 की उम्र के दायरे में अधिक बचत करने का बेहतर समय रहता है। हमेशा बजट बनाकर चलना चाहिए। हर महीने आप कहां, कितना खर्च कर रहे हैं, इसका एक रिकॉर्ड जरूर रखें। गैरवाजिब खर्चे कम करने का प्रयास करना चाहिए। सभी जरूरी खर्चे जैसे कि ईएमआई, किराया, स्‍कूल फीस, डेली और हाउसहोल्‍ड खर्च की लिस्टिंग कर लेनी चाहिए। साथ ही निवेश के लिए जरूरी फंड का भी हिसाब रखें। यह ध्‍यान रखें कि खर्च करने से पहले बचत करना जरूरी है।

Read: 50-30-20 बजट नियम क्या है? इस के साथ अपने पैसे कैसे मैनेज करें?

घर के बजट की योजना कैसे बनाएं और अपने लक्ष्यों को कैसे प्राप्त करें?

4. अपने खरीदारी के आग्रह को नियंत्रित करें

आवेश में आकर चीजें न खरीदें। कोई भी गैर-जरूरी सामान खरीदने से पहले 24 घंटे प्रतीक्षा करें। इस बात पर विचार करें कि क्या आपको वास्तव में इसकी आवश्यकता है या आप इसका कितना उपयोग करेंगे।

 खाने, कपड़े, एक्सेसरीज आदि से लेकर हर चीज पर अच्छे सौदे खोजने की कोशिश करें। यदि आप किसी सौदे की तलाश में हैं, तो आप अपने जीवनकाल में बहुत सारा पैसा बचा लेंगे।

खरीदने से पहले, आपको एक योजना के साथ खरीदारी करनी चाहिए। पैसे बचाने का सबसे आसान तरीका एक सूची बनाना और उसका पालन करना है। यह एक साधारण आदत है जो प्रत्येक खरीदारी से पहले केवल कुछ मिनट लेती है।

Read: बचत और निवेश Savings and Investment के बीच क्या अंतर है? –

Money saving tips -13 पैसे बचाने के सर्वोत्तम सिद्ध टिप्स

5. इन्‍श्‍योरेंस न करें नजरअंदाज (Insurance Cover)

Financial planning में insurance cover को अनिवार्य रूप से शामिल करना चाहिए। इसमें term life plan बेहद जरूरी है। यह आपकी परिवार को मुश्किल समय पर्याप्‍त आर्थिक सुरक्षा देता है। इसके अलावा, health insurance निश्चित रूप से सभी को रखना चाहिए। आजकल जिस तरह इलाज का खर्च है, उसे देखते हुए आपके पास हेल्‍थ कवर होना ही चाहिए।

Read: सबसे अच्छी बचत योजना भारत में -16 उच्च रिटर्न वाली बचत योजनाएं

मंथली इनकम स्कीम: 10 Monthly Income Schemes

सैलरी से पैसे कैसे बचाएं: Paisa Bachane Ke 15 Smart Tarike

6. कर्ज को संभालना सीखें

क्या आप जानते हैं कि कर्ज का सबसे महंगा रूप credit card  है? जब आप इसका बार-बार इस्तेमाल करते हैं, तो आपको पता चलने से पहले ही आप आर्थिक जाल में फंस जाते हैं। केवल आपात स्थिति में ही अपने क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने की आदत डालें। अपने कर्ज चुकाने के लिए एक अच्छी रणनीति बनाकर आप कर्ज के जाल में फंसने से बच सकते हैं। अगर आप पर बहुत अधिक कर्ज है, तो सबसे पहले सबसे महंगे कर्ज का भुगतान करना शुरू करें।

आप कई वित्तीय लक्ष्यों के बारे में सोच सकते हैं। जैसे कार या नया स्मार्टफोन या उच्च शिक्षा। इन सभी मामलों में आपको पैसों की जरूरत होती है। लेकिन यह कहां से आएगा? नहीं, कर्ज नहीं। बचत करना ही इसका सही तरीका है!

आप अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए बचत करने और कोष बनाने पर विचार कर सकते हैं। इस प्रकार व्यक्ति कर्ज में डूबने से बच जाता है।

पैसे बचाने का सबसे अच्छा तरीका

चिट फंड एक बचत योजना है जिसमें आप अपनी जरूरत के हिसाब से निवेश या उधार ले सकते हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि वे पूरी तरह से स्थिर हैं और बाजार के उतार-चढ़ाव के अधीन नहीं हैं। चिट फंड एक निवेश होने के साथ-साथ आवश्यकता को पूरा करने का लाभ होता है। आपात स्थिति में पैसा आसानी से निकाला जा सकता है या अनिश्चित काल के लिए निवेश किया जा सकता है। निजी जरूरतों को चिट फंड से पूरा किया जा सकता है।

मनी क्लब एक बचत (Saving), निवेश (Investment) और लोन (Loan) ऐप है। द मनी क्लब एक फिनटेक कंपनी है जिसने निम्न-मध्यम वर्ग की आबादी को बचाने, उधार लेने और डिजिटल रूप से निवेश करने में सक्षम बनाने के लिए एआई-आधारित बचत और उधार उपकरण का निर्माण किया है। यदि आप अपने पैसे को निवेश करते हैं तो आपको 10%-15% सालाना के हिसाब से ब्याज मिलता है। यही नहीं, आप इस ऐप पर किसी भी समय कम ब्याज दर से लोन भी ले सकते हैं। यहां मिलने वाला रिटर्न किसी भी फिक्स्ड डिपॉजिट (Fixed Deposit) से ज्यादा है।

Read: चिट फंड बनाम सावधि जमा: क्या chit fund fixed deposit से बेहतर हैं?

इन्वेस्टमेंट कहां करे- अच्छा रिटर्न पाने के लिए पैसा कहां इन्वेस्ट करे   

7. अपना निवेश पोर्टफोलियो बनाना शुरू करें

आपका भविष्य इस बात पर निर्भर करता है कि आप अपने द्वारा बचाए गए धन कैसे उपयोग करते हैं। अक्‍सर युवाओं में यह देखा जाता है कि वो  एक ही जगह अपना पैसा लगा देते हैं। निवेश को लेकर  निगम के मुताबिक,  फंड का पूरा इन्‍वेस्‍टमेंट एक ही जगह नहीं करना चाहिए। हमेशा diversified investment plan रखें। इसमें अपने financial goal, risk profile देखकर निवेश का option चुनें।

Long term के नजरिए से wealth तैयार करने के लिए mutual fund का option अच्छा हो सकता है। इसके अलावा बाजार के safe और guaranteed return रिटर्न , जैसे पीपीएफ, आरडी, एनएससी, एफडी, चिट फंड जैसे  इन्‍वेस्‍टमेंट ऑप्‍शन भी पोर्टफोलियो में शामिल कर सकते हैं। वहीं, नौकरी की शुरुआत में आप प्रॉपर्टी और गोल्‍ड को भी अपने पोर्टफोलियो में शामिल करते हैं, तो यह आने वाले समय में अच्छा रिटर्न देगा।

Read: Paisa Invest Kaha Kare- Paise Invest Karne Ke 10 Best Tarike

सबसे अच्छा इन्वेस्टमेंट कौन सा है? 8 सबसे ज्यादा रिटर्न देने वाली स्कीम

Conclusion

अंत में, हम आपको सलाह देते हैं कि कोई भी महत्वपूर्ण धन संबंधी निर्णय लेने से पहले किसी विशेषज्ञ से सलाह लें।

अगर आप इसे आदत बना लेते हैं तो अपने पैसे का प्रबंधन करना कोई बड़ा काम नहीं है। इस आदत को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बना लें।

अपनी बचत और निवेश यात्रा को किकस्टार्ट करने और अपने धन को बढ़ाने के लिए ऊपर बताए गए सुझावों का पालन करें। अपनी युवावस्था का लाभ उठाएं और अपने आत्म-मूल्य में वृद्धि करें।