सबसे अच्छा इन्वेस्टमेंट कौन सा है? 8 सबसे ज्यादा रिटर्न देने वाली स्कीम

सबसे अच्छा इन्वेस्टमेंट

इसमें कोई संदेह नहीं है जब भारत में उच्च रिटर्न के साथ सुरक्षित और सर्वोत्तम निवेश योजनाओं का पता लगाने की बात आती है तो यहां बहुत सारे निवेश प्लान बाजार में उपलब्ध हैं। हालाँकि, हम इसके बारे में आश्चर्य करते हैं और सोचते हैं कि क्या कोई निवेश रणनीति है जो लाभ और जोखिम को संतुलित कर सके या फिर सबसे अच्छा इन्वेस्टमेंट कौन सा है? हम अच्छी तरह जानते हैं कि जोखिम रिटर्न बढ़ाता है, और इसके विपरीत। हालांकि, कम जोखिम के साथ महत्वपूर्ण रिटर्न देने वाली निवेश रणनीति खोजना चुनौतीपूर्ण हो जाता है।

उच्च रिटर्न के साथ विभिन्न प्रकार के सर्वश्रेष्ठ निवेश प्लान बाजार में उपलब्ध हैं और अतिरिक्त लाभ प्रदान करते हैं। एक निवेश विकल्प चुनना जो आपकी आवश्यकताओं के अनुकूल हो, महत्वपूर्ण है। इस लेख में, हम आपके लिए भारत में उच्च रिटर्न के साथ कुछ सुरक्षित और बेहतरीन निवेश योजनाएं लेकर आए हैं।

Read: Paisa Invest Kaha Kare- Paise Invest Karne Ke 10 Best Tarike

हर महीने बचत करे! मनी क्लब के साथ अपना भविष्य सुरक्षित करें

निवेश योजनाओं का महत्व

धन वृद्धि के लिए

अपने 20 के दशक में अपने निवेश की योजना बनाने से आपको आय का एक निष्क्रिय स्रोत बनाने में मदद मिल सकती है और जब तक आप अपने 50 के दशक तक नहीं पहुंच जाते, तब तक आप बड़ी मात्रा में धन अर्जित कर सकते हैं। आज आपको निवेश शुरू करने के लिए प्राथमिक कारणों में से एक है, अधिक धन अर्जित करना। ध्यान रखें कि जितनी जल्दी आप अपनी निवेश यात्रा शुरू करते हैं, उतनी ही अधिक संपत्ति आप बना सकते हैं।

जीवन की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए

उच्च रिटर्न वाली मासिक निवेश योजनाएं आपको बेहतर जीवन जीने में मदद कर सकती हैं। यह आपको अपने निवेश से मासिक ब्याज प्राप्त करने में सक्षम बनाता है और आपको अपने इच्छाओं की पूर्ति के लिए अतिरिक्त धन देता है।

परिवार को सुरक्षा प्रदान करें

प्रारंभिक निवेश योजना आपको भविष्य के लिए पैसे बचाने में सक्षम बनाती है। अपने परिवार के भविष्य के खर्चों को पूरा करने के लिए पर्याप्त धन होने से आपको सुरक्षा और मन की शांति मिलती है।

सेवानिवृत्ति योजना बनाने के लिए

आप रिटायरमेंट फंड में एक छोटी राशि का योगदान करके सेवानिवृत्ति की आयु तक पहुंचने तक एक कोष बना सकते हैं। यह आपको आपके बाद के वर्षों में वित्तीय स्वतंत्रता देता है।

Read: वरिष्ठ नागरिक बचत योजना के तहत बचत पर उच्च ब्याज का लाभ

आज ही हमारे साथ आसानी से अपनी बचत यात्रा शुरू करें   

निवेश योजनाओं को खरीदने के लाभ

भारत में उच्च return के साथ सुरक्षित निवेश के कई लाभ हैं जिनमें शामिल हैं:

वित्तीय सुरक्षा (Financial Security)

यदि आप सावधानीपूर्वक अपने निवेश का प्रबंधन करते हैं, तो आप अपने बच्चे की शादी, स्कूली शिक्षा, सेवानिवृत्ति आदि जैसे छोटे और दीर्घकालिक लक्ष्यों को प्राप्त कर सकते हैं।

अच्छी वापसी (Good Return)

यदि आप post tax return की तुलना अन्य निवेश विकल्पों से करते हैं, तो निवेश योजनाओं पर return आमतौर पर अधिक होता है (विशेष रूप से यूनिट लिंक्ड बीमा योजनाओं में)

नियमित आय (Regular Income)

कुछ निवेश योजनाएं लाभांश या ब्याज भुगतान में नियमित आय प्रदान करती हैं। उदाहरण के लिए, सावधि जमा योजनाएं (fixed deposit schemes ) नियमित अंतराल पर ब्याज भुगतान की पेशकश करती हैं, जो आपको अपने वित्तीय लक्ष्यों को पूरा करने में मदद कर सकता है।

कर लाभ (Tax Benefits)

मैच्योरिटी पर आपको मिलने वाला पैसा आयकर अधिनियम की धारा 10 (10) डी के तहत कर-मुक्त है, और आप धारा 80सी के तहत अपने करों से भुगतान किए गए प्रीमियम को घटा सकते हैं। कृपया ध्यान दें कि विभिन्न योजनाओं के तहत उपलब्ध कर छूट अलग-अलग होती है, और आपसे अनुरोध है कि आप इस पर सावधानी से विचार करें। NPS आयकर अधिनियम की धारा 80C और धारा 80CCD के तहत कर लाभ प्रदान करता है।

राइडर्स के लिए लाभ (Benefits for Riders)

आप गंभीर बीमारी कवरेज, दुर्घटना मृत्यु बीमा, प्रीमियम छूट आदि जैसे अतिरिक्त स्थिति भी जोड़ सकते हैं

सुरक्षा (Safety)

कुछ निवेश योजनाएँ संपत्तियों के संबंध में सुरक्षा प्रदान करती हैं। उदाहरण के लिए, NPS सरकार द्वारा समर्थित है, जो इसे एक सुरक्षित निवेश विकल्प बनाता है। ठीक उसी तरह, सावधि जमा योजनाएं (fixed deposit schemes) भी सरकार द्वारा समर्थित हैं, और वे गारंटीड रिटर्न प्रदान करती हैं।

ऋृण (Loan)

यदि आपको बाद में धन की आवश्यकता है, तो आप निवेश पर ऋण के लिए भी आवेदन कर सकते हैं। हर कंपनी में, ब्याज दर भिन्न होती है।

लाभ जो दोहरे हैं (Benefits That Are Dual)

शेयर बाजार में निवेश कर आप अपनी संपत्ति बढ़ा सकते हैं और साथ ही भविष्य की जरूरतों के लिए धन संचय भी कर सकते हैं।

Read: इन्वेस्टमेंट कहां करे- अच्छा रिटर्न पाने के लिए पैसा कहां इन्वेस्ट करे

अपने स्मार्टफोन के माध्यम से घर बैठे पैसे बचाएं

उच्च रिटर्न पाने के लिए भारत में सुरक्षित और सबसे अच्छा इन्वेस्टमेंट कौन सा है?

निवेश की आदत डालने की सलाह दी जाती है, खासकर यदि आप स्थिर आय वाले युवा व्यक्ति हैं। यदि आप अपने खाते में उन अतिरिक्त शून्यों को देखने का आनंद लेते हैं, तो आपको योजना बनाना शुरू कर देना चाहिए, चाहे वह जीवन बीमा योजना (life insurance plan) हो, भविष्य निधि (provident fund), यूलिप (ULIP), या नियमित व्यवस्थित निवेश योजना (regular systematic investing plan) हो।

विभिन्न निवेश माध्यमों के बारे में ऑनलाइन ज्ञान का खजाना उपलब्ध है जिसका उपयोग आप अपने वित्तीय भविष्य को सुनिश्चित करने के लिए कर सकते हैं। आइए उच्च रिटर्न पाने के लिए भारत की कुछ सुरक्षित और बेहतरीन निवेश योजनाओं के बारे में बात करते हैं।

Read: चिट फंड बनाम सावधि जमा: क्या chit fund fixed deposit से बेहतर हैं? – The Money Club

मंथली इनकम स्कीम: 10 Monthly Income Schemes

राष्ट्रीय पेंशन योजना (एनपीएस) (National Pension Plan (NPS))

भारत सरकार NPS को दीर्घकालिक सेवानिवृत्ति योजना और निवेश विकल्प उपकरण के रूप में प्रदान करती है। यह बाजार से जुड़ी पेंशन योजना है जो आयकर अधिनियम की धारा 80C और 80CCD के अनुसार कर लाभ प्रदान करती है।

NPS में न्यूनतम निवेश 1,000 रुपये प्रति वर्ष है। रु. 1,50,000 वार्षिक अधिकतम निवेश राशि है। इक्विटी, डेट और सरकारी प्रतिभूतियां (securities) निवेशकों के लिए उपलब्ध विकल्पों में से कुछ ही हैं।

Read: इमरजेंसी फंड क्या है यह फंड क्यों है जरूरी, जानें कैसे करें तैयार –

चिट फंड (Chit Funds)

चिट फंड, एक उत्पाद के रूप में, अपने ग्राहकों को ढेर सारे लाभ प्रदान करते हैं। इनमें से कुछ लाभों में चिट फंड को आसानी से समझ में आने वाली बचत और उधार उत्पाद, कम कागजी कार्रवाई और बचत खाते की तुलना में अधिक रिटर्न शामिल हैं। इक्विटी उपकरणों, Bonds और म्युचुअल फंडों के विपरीत, चिट फंड भी बाजार में उतार-चढ़ाव से मुक्त हैं, और हर महीने बचत करने के लिए एक मजबूत प्रतिबद्धता को प्रोत्साहित करके निवेशकों पर अनुशासनात्मक प्रभाव डालते हैं। इसके अलावा, क्योंकि यह एक high liquidity वाला साधन है, यह आपात स्थिति के समय धन जुटाने के लिए एक उपयोगी उपकरण है।

चिट फंड एक बचत और उधार साधन है जो अन्य वित्तीय प्रणालियों से अलग है। जब आप चिट में निवेश करते हैं, तो आप अन्य वित्तीय मध्यस्थों की तुलना में अधिक रिटर्न अर्जित करते हैं, और जब आप उधार लेते हैं, तो आप कम ब्याज का भुगतान करते हैं।

एक उदाहरण से समझते हैं:

एक ऐसे व्यक्ति के मामले पर विचार करें जो आवर्ती खाते में छह महीने से 1,000 रुपये जमा कर रहा है और अब एक चिकित्सा आपात स्थिति का सामना कर रहा है। वह अब अधिकतम 5,000 रुपये या बैंक में जमा राशि का लगभग 80% निकाल सकता है। हालांकि, अगर उसने 20,000 रुपये के चिट फंड में नामांकन किया होता और केवल 6,000 रुपये का भुगतान किया होता, तो वह 20,000 रुपये की पूरी राशि पर बोली लगाने में सक्षम होता।

द मनी क्लब एक फिनटेक कंपनी है जिसने निम्न-मध्यम वर्ग की आबादी को डिजिटल रूप से बचाने, उधार लेने और निवेश करने में सक्षम बनाने के लिए AI-आधारित P2P group saving platform बनाया है। वास्तव में, द मनी क्लब जैसे 100% डिजिटल, कानूनी, पंजीकृत और विनियमित चिट फंड से निवेश/फंडिंग फायदेमंद है। यहां आप sign up कर सकते हैं और KYC को डिजिटल रूप से पूरा कर सकते हैं, अपने ऐप पर अपनी चिट्स का प्रबंधन कर सकते हैं, ई-नीलामी में भाग ले सकते हैं और अपने घर से आराम से बोली लगा सकते हैं। इसलिए, यह भारत में उच्च रिटर्न पाने के लिए सुरक्षित और सर्वोत्तम निवेश योजना में से एक है।

आप पढ़ सकते हैं: मनी क्लब प्लेटफॉर्म पर अपनी यात्रा जानें
मनी क्लब मोबाइल ऐप कैसे काम करता है?
क्या चिट फंड में निवेश करना सुरक्षित है?

इन्वेस्टमेंट कहां करे- अच्छा रिटर्न पाने के लिए पैसा कहां इन्वेस्ट करे   

इक्विटी-आधारित म्युचुअल फंड (Equity-Based Mutual Funds)

यदि आप बड़े रिटर्न की तलाश में कुछ जोखिम लेने को तैयार हैं तो इक्विटी म्यूचुअल फंड आपके लिए एक स्मार्ट विकल्प हो सकता है। आप स्टॉक के विविध पोर्टफोलियो में इन फंडों के निवेश के माध्यम से शेयर बाजार के संभावित विकास के संपर्क में हैं। भले ही इक्विटी म्युचुअल फंड बाजार के जोखिमों के लिए अतिसंवेदनशील होते हैं, लेकिन उनमें लंबे समय में बेहतर रिटर्न देने की क्षमता होती है।

Read: Financial Planning in Hindi: फाइनेंसियल प्लानिंग के Steps and Tips

डेट म्युचुअल फंड (Debt Mutual Funds)

फिक्स्ड-इनकम निवेश की तुलना में बेहतर रिटर्न के साथ तुलनात्मक रूप से सुरक्षित निवेश विकल्प चाहने वाले निवेशकों के लिए, डेट म्यूचुअल फंड एक बुद्धिमान विकल्प हो सकता है। ये फंड फिक्स्ड-इनकम सिक्योरिटीज जैसे कमर्शियल पेपर्स, गवर्नमेंट बॉन्ड्स और कॉरपोरेट बॉन्ड्स में निवेश करते हैं।

डेट म्युचुअल फंड मध्यम से लंबी अवधि के लक्ष्यों के लिए सबसे अच्छा विकल्प हैं, भले ही वे ब्याज दर के जोखिमों के प्रति संवेदनशील हैं और उचित रूप से लगातार रिटर्न प्रदान करते हैं।

Read: What is Financial Freedom in Hindi? वित्तीय आजादी के लिए 9 Tips

 

इक्विटी शेयर (Equity Share)

एक इक्विटी शेयर व्यवसाय में एक निवेशक की हिस्सेदारी है। इस स्थिति में, निवेशक व्यवसाय के केवल एक छोटे से हिस्से का मालिक होता है। लंबी अवधि के निवेश के अवसर की तलाश कर रहे किसी व्यक्ति के लिए इक्विटी शेयर आश्चर्यजनक मुनाफा दे सकते हैं। हालांकि, किसी को यह ध्यान रखना चाहिए कि इक्विटी शेयर इस तथ्य के कारण काफी खतरनाक हैं कि बाजार में उतार-चढ़ाव का उनके मूल्य निर्धारण पर प्रभाव पड़ता है। इसलिए, अपनी मेहनत की कमाई को सीधे इक्विटी में निवेश करने से पहले, पूरी तरह से अध्ययन करना और बाजार की गतिशीलता को समझना सुनिश्चित करें।

रियल एस्टेट (Real Estate)

लंबी अवधि के विकास के अवसर की तलाश करते समय, रियल एस्टेट में निवेश करना हमेशा एक सामान्य विकल्प रहा है। रियल एस्टेट लंबी अवधि के दृष्टिकोण वाले लोगों के लिए एक ठोस निवेश है, भले ही संपत्ति के मूल्यों में उनकी अल्पकालिक अस्थिरता के बावजूद लंबी अवधि में धीरे-धीरे चढ़ने की प्रवृत्ति हो। इसके अतिरिक्त, अचल संपत्ति खरीदने से आपके लिए किराये की आय का एक स्थिर प्रवाह उत्पन्न हो सकता है, जिससे आपका रिटर्न बढ़ सकता है।

बचत और निवेश Savings and Investment के बीच क्या अंतर है?

सामान्य भविष्य निधि (Public Provident Fund)

भारत में उच्च रिटर्न पाने के लिए एक और सुरक्षित और बेहतरीन निवेश योजना पब्लिक प्रोविडेंट फंड है। आप भविष्य में एक निश्चित आय अर्जित करने के लिए सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ) में सालाना 1,50,000 रुपये तक जमा कर सकते हैं। यह कर-मुक्त निवेश की संभावना है जिसे बैंक या डाकघर के माध्यम से खोला जा सकता है। एक सुरक्षित और कम जोखिम वाला निवेश विकल्प होने के बावजूद, इसमें 15 साल की लॉक-इन अवधि है और यह अन्य निवेश योजनाओं की तुलना में कम आकर्षक रिटर्न प्रदान करता है। 7.6% की वर्तमान पीपीएफ ब्याज दर निकट भविष्य में अपेक्षित मुद्रास्फीति (inflation) की 7% दर के साथ मुद्रास्फीति (inflation) को मुश्किल से कवर करती है। लेकिन अगर कोई धीरे-धीरे धन जमा करना चाहता है, तो वे अपर्याप्त हैं।

गोल्ड ईटीएफ (Gold ETFs)

गोल्ड ईटीएफ एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड हैं जो किसी निवेशक को वास्तविक भौतिक संपत्ति खरीदने की आवश्यकता के बिना सोना खरीदने की सुविधा देते हैं। भौतिक सोने की कीमतें सोने के एक्सचेंज ट्रेडेड फंड की लागत निर्धारित करती हैं। गोल्ड ईटीएफ, वास्तविक गोल्ड बार के विपरीत, बहुत तरल होते हैं और इनमें पर्याप्त लाभ उत्पन्न करने की क्षमता होती है। हालांकि, आपको यह ध्यान रखना चाहिए कि बाजार में उतार-चढ़ाव का गोल्ड ईटीएफ की कीमत पर प्रभाव पड़ता है, जिससे वे जोखिम भरे हो जाते हैं।

Read: घर के बजट की योजना कैसे बनाएं और अपने लक्ष्यों को कैसे प्राप्त करें?

निष्कर्ष (Conclusion)

इस लेख के अंत तक आपको उच्च रिटर्न प्राप्त करने के लिए भारत में कुछ सुरक्षित और सर्वोत्तम निवेश योजनाओं के बारे में पता चल गया होगा। सभी के लिए, भारत में एक ही अनुकूल निवेश विकल्प नहीं है। आपकी आयु, जोखिम सहनशीलता, वित्तीय उद्देश्यों और समय क्षितिज जैसे कई कारक अनुकूल निवेश का निर्धारण करेंगे जो आपको उच्च रिटर्न प्रदान करेगा। यदि आप सुनिश्चित रिटर्न के साथ जोखिम मुक्त निवेश विकल्पों की तलाश कर रहे हैं तो बैंक डिपॉजिट और एफडी अच्छे विकल्प हैं। दूसरी ओर, इक्विटी म्युचुअल फंड और रियल एस्टेट, बेहतर विकल्प हो सकते हैं यदि आप पैसे का निवेश करने के लिए कुछ जोखिम उठाने के लिए तैयार हैं जो आपको उच्च दर का रिटर्न प्रदान करेगा।

Read: Important मनी मैनेजमेंट टिप्स, Money management tips in Hindi

मनी सेविंग टिप्स, 15 Money Saving Tips in Hindi

50-30-20 बजट नियम क्या है? इस के साथ अपने पैसे कैसे मैनेज करें?