सबसे अच्छी बचत योजना भारत में -16 उच्च रिटर्न वाली बचत योजनाएं

सबसे अच्छी बचत योजना भारत

हम में से ज्यादातर लोग जानते हैं कि भविष्य के लिए पैसा बचाना, लक्ष्यों को प्राप्त करने, संपत्ति बनाने और आराम से retire होने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है।

कितना पैसा बचाना है? हालांकि इसका कोई निश्चित उत्तर नहीं है, अधिकांश वित्तीय विशेषज्ञ आपको अपनी income का 20% बचाने की सलाह देते हैं। कहाँ बचाना है? बाजार में कई बचत योजनाएं उपलब्ध हैं जहां आप अपना पैसा निवेश कर सकते हैं। इतने सारे विकल्पों के साथ आप अपने लिए सबसे अच्छी बचत योजना चुनने के बारे में आसानी से confuse हो सकते हैं।

द मनी क्लब में शामिल हों और निवेश करना शुरू करें।

इसलिए इस लेख में हम आपको बताएंगे कि आप अपना पैसा कैसे और कहां से बचा सकते हैं। साथ ही ये भी बताएंगे कि सबसे अच्छी बचत योजना कौन सी है।
Related: बचत और निवेश (Savings and Investment) के बीच क्या अंतर है?

भारत में सबसे अच्छी बचत योजना

यहां, हमने विभिन्न बचत योजनाओं को 4 categories में divide किया है – बैंक बचत योजनाएं, बाजार से जुड़ी बचत योजनाएं, सरकारी बचत और अन्य बचत विकल्प। साथ ही हमने विभिन्न मापदंडों के आधार पर उनकी तुलना की है।

बैंक बचत योजनाएं

1.सावधि जमा (Fixed Deposit)

सावधि जमा (FD) को सबसे अच्छी बचत योजना में से एक माना जाता है। सावधि जमा (FD) उच्चतम स्थिरता प्रदान करता है। रिटर्न का आश्वासन दिया जाता है क्योंकि मूल राशि के नुकसान का कोई जोखिम नहीं है। अपने मासिक खर्चों को manage करने के लिए आप quarterly या half yearly period में ब्याज निकाल सकते हैं।

2.आवर्ती जमा (Recurring Deposit)

आवर्ती जमा (RD) एक एफडी की तरह काम करता है लेकिन। RD में आप lumpsum amount जमा करने के बजाय किश्तों में निवेश करना चुन सकते हैं।

बैंक FD से 3 से 4 गुना अधिक कमाएं

3.टैक्स सेविंग बैंक एफडी (Tax Saving Bank FD)

टैक्स सेविंग बैंक एफडी एक प्रमुख निवेश विकल्प है, और जैसा कि इसके नाम से पता चलता है, यह एक अच्छा  tax benefit प्रदान करता है। इस FD की न्यूनतम अवधि 5 वर्ष है। आप अधिकतम ₹1.5 लाख की कर छूट के पात्र हैं।

बाजार से जुड़ी बचत योजनाएं

1. डायरेक्ट इक्विटी/स्टॉक्स (Direct equity/stocks)

डायरेक्ट इक्विटी निवेश एक उच्च जोखिम वाला निवेश विकल्प है। यह कंपनी के शेयर खरीदता है, और कंपनी के प्रदर्शन का शेयरों की कीमत पर सीधा प्रभाव पड़ता है। शेयर की कीमत में कोई भी उतार-चढ़ाव स्टॉक मूल्य को बढ़ा या घटा सकता है।

2.म्यूचुअल फंड (Mutual Fund)

म्यूचुअल फंड कम जोखिम और उच्च लचीलापन प्रदान करता है। यह एक निवेश माध्यम है जो आपको debt fund, equity fund आदि में निवेश करने की अनुमति देता है।

3.यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान (ULIP)

यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान (ULIP) निवेश और बीमा का एक संयोजन है। यह धन वृद्धि के साथ-साथ जीवन बीमा भी प्रदान करता है। आपके निवेश का एक हिस्सा जीवन बीमा में लगाया जाता है और बाकी का निवेश आपके दीर्घकालिक वित्तीय लक्ष्यों के आधार पर डेट या इक्विटी या दोनों में किया जाता है।

आज ही द मनी क्लब में शामिल होकर बचत करें

4.इक्विटी लिंक्ड सेविंग्स स्कीम (Equity Linked Savings Scheme)

इक्विटी लिंक्ड सेविंग्स स्कीम मुख्य रूप से equity और equity से संबंधित instruments में निवेश करती है। यह योजना उच्च रिटर्न उत्पन्न करती है। 1.5 लाख तक का निवेश एक वित्तीय वर्ष में कर योग्य आय से कटौती के लिए पात्र है।

सबसे अच्छी सरकारी बचत योजना

1.पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF)

पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (PPF) एक लोकप्रिय दीर्घकालिक बचत और निवेश उत्पाद है क्योंकि यह कर बचत, सुरक्षा और रिटर्न प्रदान करता है। भारत सरकार इसे नियंत्रित करती है, और हर तिमाही के लिए सरकार द्वारा ब्याज दर निर्धारित और भुगतान किया जाता है।

कार्यकाल: 15 वर्ष

ब्याज दर: 7.1%

अधिकतम निवेश: 1.5 लाख प्रति वर्ष

न्यूनतम निवेश: 500 रुपये प्रति वर्ष

ब्याज पर कर: कर योग्य नहीं

मूलधन पर कटौती: हाँ

2.राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC)

 राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी) भारत के निवासी द्वारा किसी भी डाकघर से खरीदा जा सकता है। यह सरकार समर्थित कर बचत निवेश योजना कम जोखिम और निश्चित रिटर्न देती है।

कार्यकाल: 5 वर्ष

ब्याज दर: 6.8%

अधिकतम निवेश: कोई अधिकतम सीमा नहीं

न्यूनतम निवेश: 100 रुपये

ब्याज पर कर: नहीं (ब्याज कर-कटौती योग्य है)

प्रिंसिपल पर कटौती: हाँ

3.डाकघर बचत खाता (Post Office Savings Account)

डाकघर बचत खाता एक नियमित बचत खाते के समान है। यह आपात स्थिति के मामले में बहुत ही कम समय में धन के पूर्ण या आंशिक परिसमापन का विकल्प प्रदान करता है।

कार्यकाल: कोई नहीं

ब्याज दर: 4%

अधिकतम निवेश: कोई अधिकतम सीमा नहीं

न्यूनतम निवेश: 500 रुपये

ब्याज पर कर: हाँ

प्रिंसिपल पर कटौती: नहीं

4.डाकघर समय जमा (Post Office Time Deposit)

इन योजनाओं की अवधि 1, 2, 3 या 5 वर्ष है। यह सुनिश्चित रिटर्न का वादा करता है और इसे आसानी से एक डाकघर से दूसरे डाकघर में स्थानांतरित किया जा सकता है।

कार्यकाल: 1-5 वर्ष

ब्याज दर: 6.9% से 7.7%

अधिकतम निवेश: कोई अधिकतम सीमा नहीं

न्यूनतम निवेश: 1000 रुपये प्रति वर्ष

ब्याज पर कर: हाँ

प्रिंसिपल पर कटौती: नहीं

इमरजेंसी फंड क्या है यह फंड क्यों है जरूरी, जानें कैसे करें तैयार

5.डाकघर मासिक आय योजना (Post Office Monthly Income Scheme)

डाकघर मासिक आय योजना (POMIS) में, आप एक निश्चित राशि का निवेश कर सकते हैं और हर महीने एक निश्चित राशि का ब्याज प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना में आप किसी भी डाकघर से निवेश कर सकते हैं।

कार्यकाल: 5 वर्ष

ब्याज दर: 6.6%

अधिकतम निवेश: 4.5 लाख

न्यूनतम निवेश: 1,500 रुपये

ब्याज पर कर: हाँ

प्रिंसिपल पर कटौती: नहीं

6.किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra)

1988 में इंडिया पोस्ट द्वारा पेश किया गया KVP एक छोटा बचत साधन है जो लोगों को लंबी अवधि के लिए बचत करने की अनुमति देता है। इसमें आपको पैसा एक निश्चित अवधि के बाद दोगुना होकर वापस मिलता है। 

कार्यकाल: 5 वर्ष

ब्याज दर: 6.9%

अधिकतम निवेश: कोई अधिकतम सीमा नहीं

न्यूनतम निवेश: 1000 रुपये

ब्याज पर कर: हाँ

प्रिंसिपल पर कटौती: नहीं

 

7.सुकन्या समृद्धि योजना योजना (Sukanya Samriddhi Yojana Scheme)

SSYS बालिकाओं के लिए सरकार समर्थित सबसे अच्छी बचत योजना है। ‘बेटी बचाओ बेटी पढाओ’ अभियान के एक हिस्से के रूप में शुरू की गई, यह योजना एक बालिका की वित्तीय जरूरतों को पूरा करने में मदद करती है और धारा 80 सी के तहत आयकर लाभ के साथ आती है।

कार्यकाल: 21 वर्ष

ब्याज दर: 7.6%

अधिकतम निवेश: 1.5 लाख

न्यूनतम निवेश: 1000 रुपये

ब्याज पर कर: नहीं

प्रिंसिपल पर कटौती: हाँ

8.वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (Senior Citizen Savings Scheme)

वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (एससीएसएस) का उद्देश्य वरिष्ठ नागरिकों को 60 वर्ष की आयु के बाद नियमित आय प्रदान करना है। यह योजना वरिष्ठ नागरिकों के लिए सबसे अच्छी बचत योजना है।

कार्यकाल: 5 वर्ष

ब्याज दर: 7.4%

अधिकतम निवेश: 15 लाख

न्यूनतम निवेश: 1,000 रुपये

ब्याज पर कर: हाँ

प्रिंसिपल पर कटौती: हाँ

Paise Invest Karne Ke 10 Best Tarike

9.प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana)

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (PMVVY) वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक guaranteed pension योजना है। एक निवेश के बाद, यह योजना अगले दस वर्षों के लिए एक सुनिश्चित पेंशन प्रदान करती है। प्रधानमंत्री वय वंदना योजना इस बात पर निर्भर करती है कि आप मासिक, त्रैमासिक, अर्ध-वार्षिक या वार्षिक रूप से अपने भुगतान कैसे लेने का विकल्प चुनते हैं, इसके आधार पर अच्छा रिटर्न मिलता है।

कार्यकाल: 10 वर्ष

ब्याज दर: 7.4%

अधिकतम निवेश: 15 लाख

न्यूनतम निवेश: 1,000 रुपये

ब्याज पर कर: हाँ

प्रिंसिपल पर कटौती: हाँ

अन्य बचत विकल्प

1.चिट फंड

चिट फंडसबसे अच्छी बचत योजना है। सदस्यों की एक निश्चित संख्या निश्चित अवधि के लिए मासिक योगदान करती है। आप हर दिन, हर 3 दिन, 15 दिन या मासिक में एक छोटी राशि का निवेश कर सकते हैं और अपने निवेश पर उच्च रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं।
डिजिटलीकरण के साथ, चिट फंड ऑनलाइन हो गए हैं, जैसे द मनी क्लब जो एक डिजिटल चिट फंड प्लेटफॉर्म है। आप कम से कम 200 रुपये की राशि से बचत शुरू कर सकते हैं। बैंक FD और RD से मिलने वाले रिटर्न से 3-4 गुना अधिक ब्याज भी कमा सकते हैं। अगर कोई RD आपको सालाना 5% देता है, तो मनी क्लब आपको 10%-15% रिटर्न दे सकता है। आप अपने सैलरी से पैसे बचा कर चिट फंड में निवेश कर सकते हैं। जरूरत के समय में, आप इससे पैसे उधार भी ले सकते हैं।

मनी क्लब में शामिल होने के लिए

  1. Google Play Store से मनी क्लब ऐप डाउनलोड करें
  2. हमारी टीम से KYC करवाएं
  3. KYC हो जाने के बाद, हमारा मैच-मेकिंग एल्गोरिथम आपको अन्य सत्यापित सदस्यों के साथ एक क्लब में आमंत्रित करेगा।
  4. Pilot club के साथ अपनी journey शुरू करें। 5 दिनों में केवल 1000 रुपये जमा करके एक demo लें (आप 1000 रुपये 5 दिनों के भीतर वापस प्राप्त करेंगे)

इस पेज को पढ़ें: चिट फंड बनाम सावधि जमा क्या chit fund fixed deposit से बेहतर हैं

क्या चिट फंड में निवेश करना सुरक्षित है?

2.गोल्ड (Gold)

Gold ETF सोने के निवेश और स्टॉक का mix हैं। फंड का कारोबार National Stock Exchange (NSE) पर होता है। इन्हें किसी भी अन्य कंपनी स्टॉक की तरह ही खरीदा और बेचा जा सकता है। ये निष्क्रिय उपकरण मूल्य निर्धारण में पारदर्शी होते हैं क्योंकि इनका मूल्य सोने की कीमत पर निर्भर करता है। वे बाजार की अस्थिरता से प्रभावित होते हैं लेकिन उच्च return दे सकते हैं।

3.रियल एस्टेट (Real estate)

रियल एस्टेट क्षेत्र में भारत में बहुत संभावनाएं हैं। रियल एस्टेट निवेश उच्च रिटर्न प्रदान करने के लिए जाने जाते हैं। जैसे-जैसे संपत्ति समय के साथ बढ़ती है, real estate investment में risk कम होता है।
Related: तुरंत पैसे की जरूरत है तो याद रखे ये 9 टिप्स बिना उधार मांगे